Breaking News

छात्र आंदोलन की 45 वीं वर्षगांठ 16 मार्च 1974 को बेतिया राज कचहरी में मारे गए लोगों के सम्मान में सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन–एजाज अहमद

 

 

ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के सभागार सत्याग्रह भवन में बेतिया पश्चिम चंपारण से आरंभ हुए छात्र आंदोलन की 45 वीं वर्षगांठ 16 मार्च 1974 को बेतिया राज कचहरी में मारे गए लोगों के सम्मान में सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया जिसमें सभी धर्मों के लोगों ने भाग लिया। इस अवसर पर अंतरराष्ट्रीय पीस एंबेसडर सह सचिव सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन डॉ0 एजाज अहमद ने कहा कि आज ही के दिन 16 मार्च 1974 को बिहार में भ्रष्टाचार के विरुद्ध बेतिया में आंदोलन कर रहे छात्रों पर बेतिया राज कचहरी के प्रांगण में कई आंदोलनकारी मारे गए थे। इस घटना ने बिहार को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए गांधीवादी चिंतक जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में 1974 की संपूर्ण क्रांति की आधारशिला रखी। बेतिया की घटना के 2 दिन बाद जयप्रकाश नारायण ने संपूर्ण क्रांति जी घोषणा कर दी। संपूर्ण क्रांति 7 क्रांतियों से मिलकर संपूर्ण क्रांति बनी। राजनैतिक, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, बौद्धिक, शैक्षिक, अध्यात्मिक इस अवसर पर सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के वरिष्ठ अधिवक्ता शंभू शरण शुक्ल, नीरज गुप्ता, शाहनवाज अली, नवीदूं चतुर्वेदी ने कहा कि महात्मा गांधी एवं जयप्रकाश नारायण के विचारों से ही समाज में नई जागृति पैदा की जा सकती है। नई पीढ़ी को उनके जीवन दर्शन को अपनाने की आवश्यकता है। जिससे भारत एक विकसित राष्ट्र बन सके।

Check Also

स्मृति चिन्ह के रूप में सत्याग्रह फाउंडेशन द्वारा भेट किया–एजाज अहमद

    ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। गांधी स्मारक संग्रहालय भित्हरवा आश्रम मे आयोजित दो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *