Breaking News

समाज सुधारक स्वर्गीय कांशीराम जी की 85 वीं जन्मदिवस पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया–एजाज अहमद

 

ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के सभागार सत्याग्रह भवन में सामाजिक न्याय के प्रवर्तक एवं समाज सुधारक स्वर्गीय कांशीराम जी की 85 वीं जन्मदिवस पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम बाबा साहब भीमराव अंबेडकर एवं कांशीराम जी के तैलचित्र पर पुष्प अर्पित किया गया। साथ ही साथ सर्वधर्म प्रार्थना सभा का भी आयोजन किया गया। इसमें सभी धर्मों के लोगों ने भाग लिया। इस अवसर पर अंतरराष्ट्रीय पीस एंबेस्डर सह सचिव सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन डॉ0 एजाज अहमद ने कहा कि आज ही के दिन आज से 85 वर्ष पूर्व 15 मार्च 1934 को कांशीराम जी का जन्म हुआ था।

कांशीराम का जीवन सादगी भरा रहा। उन्होंने सामाजिक न्याय के लिए अपना पूरा जीवन राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। इस अवसर पर एजाज अहमद ने कहा कि 90 के दशक में कांशीराम जी के साथ सामाजिक न्याय के क्षेत्र में उन्हें काम करने का अवसर मिला था। ताकि समाज में व्याप्त विभिन्न सामाजिक कुरीतियों से नई पीढ़ी को निजा दिलाया जा सके। उन्होंने छुआछूत, भेदभाव, अशिक्षा, कुपोषण, महामारी जैसे दानों से लड़ने के लिए एकजुट होकर सामाजिक स्तर पर हल खोजने की बात कही थी। उन्होंने अल्पसंख्यको, दलितों एवं पिछड़ों के हक के लिए जीवन भर संघर्ष करते रहे हैं। काशीराम अकेले ही चले थे और देखते ही देखते लाखों लोग भीमराव अंबेडकर के बताएं मार्ग पर काशीराम के साथ जुड़ गए। संविधान में दिए गए सामाजिक न्याय के मूल्यों को धरातल पर उतारने का उन्हें हर संभव प्रयास किया। इस अवसर पर सत्याग्रह फाउंडेशन के नीरज गुप्ता एवं शाहनवाज अली इम्तियाज अहमद ने कहा कि हमें काशीराम जी के साथ 90 के दशक में बहुत कुछ सीखने को मिला, बाबा साहब भीमराव अंबेडकर एवं कांशीराम का जीवन नई पीढ़ी के लिए जीवन दर्शन है। नई पीढ़ी को उनके अच्छाइयों को अपने में उतारने की आवश्यकता है।जिससे भारत एक विकसित राष्ट्र बन सके।

Check Also

स्मृति चिन्ह के रूप में सत्याग्रह फाउंडेशन द्वारा भेट किया–एजाज अहमद

    ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। गांधी स्मारक संग्रहालय भित्हरवा आश्रम मे आयोजित दो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *