Breaking News

भ्र्ष्टाचार की दीमक गांव तक, 10 हजार दो आवास योजना लो।

 बिहार, पुर्णिया में योजना दिलाने के नाम पर लाभुकों से रकम वसूलने का शिलशिला डगरुआ प्रखण्ड के विभिन्न पंचायतों में बरकरार है ।

बतादे की प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत डगरुआ प्रखण्ड के इचलो पंचायत में लाभ दिलाने के नाम पर प्रत्येक लाभुक से वार्ड सदस्य 10 हजार से लेकर 15 हजार तक कागजी खर्च के नाम पर वसूली करते हैं ।
इचलो पंचायत में वर्ष 2016,17 में 89 और वर्ष 2017,18 में 64 लाभार्थी को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पहुचाया गया है।

स्थलीय अवलोकन की बात करे तो अवास् योजना का लाभ राशि मिलने के बाद भी आवास अधूरा है या फिर आवास बना ही नही । वही आवास सहायक ने सूची में विभाग को आवास योजना कम्प्लीट हो जाने की पुष्टि कर दिया है।

जब लाभार्थियों से पूछा गया कि आवास बनाने की राशि मिलने के बाद भी आप ने अब तक आवास क्यो नही बनाया ।
पंचायत के लाभार्थियों ने कैमरे के सामने जो बात बताया वह सुनकर यह कहा जा सकता है की बिहार में भ्र्ष्टाचार की दीमक अब शहर से पंचायत के गांवों तक फेल चुका है ।
लाभुकों का कहना है की प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने के नाम पर वार्ड 3, और 4 के वार्ड सदस्य आलम और जहाँगीर खर्च के नाम पर हम लोगो से 10 हजार से लेकर 12 हजार तक लिया है। मना करने पर लाभ नही दिलाने का भय दिखता है । पैसा देने के बाद ही आवास की राशि बैंक खाता में भेजा जाता है ।

जब वार्ड सदस्य आलम और जहाँगीर से लाभूक से लाभ दिलाने के नाम पर पैसा लेने का बात पूछा गया तो दोनों वार्ड सदस्य ने पैसे लेने का बात को स्वीकार कर कहा की हम अकेले ही पैसा नही रखते है इसमें 3 हजार मुख्या ,3 हजार आवास सहायक और 1 हजार BDO साहेब लेते है बाकी 3 हजार मेहनत के नाम पर हम रखते है ।

Check Also

स्मृति चिन्ह के रूप में सत्याग्रह फाउंडेशन द्वारा भेट किया–एजाज अहमद

    ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। गांधी स्मारक संग्रहालय भित्हरवा आश्रम मे आयोजित दो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *