मध्यान भोजन की रसोईया को डराने धमकाने का काम कर रहे हैं, जो पूर्णता गैर लोकतांत्रिक एवं गैर संवैधानिक है–ओम प्रकाश क्रांति

 

ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। पश्चिम चम्पारण जिला के बेतिया भाकपा कार्यालय परिसर में रसोईया संघ ने अपनी हड़ताल के समर्थन में शिक्षकों को भी अपनी सहयोग हेतु कहा। मध्यान भोजन करने संयुक्त संघर्ष मोर्चा के आवाहन पर राजस्थानी रसोईया का हड़ताल 7 जनवरी से जारी है। बिहार राज्य विद्यालय रसोईया संघ सभी शिक्षकों एवं रसोईया से इस हड़ताल को सफल बनाने में सहयोग करने की अपील की है। कुछ विद्यालयों में सूचना प्राप्त हुई है कि शिक्षक एवं शिक्षा समिति के लोग हड़ताली रसोईया को डराने धमकाने का काम कर रहे हैं। जो पूर्णता गैर लोकतांत्रिक एवं गैर संवैधानिक है। मात्र बारिश हो ₹1250 रुपया महीना पर काम करने वाली रसोईया अपने पेट भरने का आंदोलन कर रही है। तो ऐसी परिस्थिति में डराना धमकाना अनुचित है। बिहार विद्यालय रसोईया संघ ने शिक्षक संगठनों के नेता से भी इस संघर्ष में सहयोग करने की अपील की है। उक्त बातें संघ के संरक्षक सह भाकपा जिलामंत्री ओम प्रकाश क्रांति ने कहा। वही बिहार विद्यालय रसोईया संघ के जिला अध्यक्ष राम बाबू राम व सचिव मीना देवी ने संयुक्त रूप से बताया कि 21 जनवरी को बेतिया जिला पदाधिकारी के समक्ष रसोईया अपनी मांगों के समर्थन में धरना देगी पूरे बिहार की रसोईया 14 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। दोनों नेताओं ने बताया कि रसोइयों को डरने की जरूरत नहीं है। संघर्ष मोर्चा बिहार सरकार को सूचित कर हड़ताल पर गए हैं। बैठक में अनीता देवी निर्मला देवी पुष्पा चौरसिया आदि सहित कई उपस्थित रही।

Check Also

बीएड के फार्म भरने में मनमानी रुपया लेने को लेकर डीएम को सौपा ज्ञापन

  ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। पश्चिम चम्पारण जिला के समाहरणालय के समक्ष बीएड में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *