सीडीपीओ ने दर्ज कराई  पूर्व बीडीओ, मुखिया, पंसस व पंचायत सचिव पर एफआईआर, मामला गीधा पंचायत में सहायिका चयन में गड़बड़ी का

 

 

चनपटिया अजय चौबे की रिपोर्ट    चनपटिया। चनपटिया बाल विकास परियोजना पदाधिकारी काजल किरण ने पूर्व मुखिया, पंसस व पंचायत सचिव आंगनबाड़ी सहायिका चयन में की गई गड़बड़ी को लेकर स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसके अनुसार मामला 2003 का है। उस समय गीधा पंचायत में आंगनबाड़ी सेविका/सहायिका चयन में चयन समिति में तत्कालीन बीडीओ सह सीडीपीओ दिनेश प्रसाद, मुखिया बीर महतो, पंसस उपेंद्र ठाकुर, शिक्षक रामाश्रय राम, पंचायत सचिव अहमद रशीद शामिल थे। इन सबके द्वारा नियम व कानून को ताक पर रखकर सहायिका के रूप में आशा देवी का चयन कर लिया गया। जबकि नियोजन के समय आशा देवी का उम्र मात्र 16 वर्ष ही था। जिसे लेकर गीधा पंचायत के ही मीरा देवी द्वारा डीएम के यहां शिकायत की गई थी। जांचोपरांत डीएम के द्वारा उक्त नियोजन में गड़बड़ी पाया गया और नियोजन समिति में शामिल लोगों पर एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष मनीष कुमार शर्मा ने बताया कि दर्ज प्राथमिकी के आलोक में गिरफ्तारी की जाएगी।

Check Also

बीएड के फार्म भरने में मनमानी रुपया लेने को लेकर डीएम को सौपा ज्ञापन

  ब्यूरो रिपोर्ट पश्चिम चम्पारण   बेतिया। पश्चिम चम्पारण जिला के समाहरणालय के समक्ष बीएड में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *