Breaking News

भूमि लूट के खिलाफ भाकपा माले ने किया भूमि अधिकार सम्मेलन

 

ब्यूरो रिपोर्ट प0 चम्पारण    बेतिया। भाकपा माले और खेत व ग्रामीण मजदूर सभा के बैनर से भूमि लूट के खिलाफ भूमि अधिकार सम्मेलन कोलुआ चौतरवा में किया, भूमि अधिकार सम्मेलन की अध्यक्षता बगहा-१अंचल के नेता रामअवतार राय ने किया। भूमि अधिकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाकपा माले जिला कमेटी सदस्य ताजुद्दीन मंसूरी ने कहा कि प0 चंपारण में मोदी- नीतीश राज में अंग्रेजी जमाने से भी अधिक भूमि लूट हो रही है। पुरे बिहार मे 137000 परचाधारियो में से अधिकांश के परचा रद्द किए जा रहे हैं। सेलिंग वाद चल रही है इसी बिच जमीन की अवैध रजिस्ट्री की जा रही है, जिन भू माफियाओं पर सीलिंग वाद नहीं चला है या जिन्होंने पहले न्यायालय की आंखों में धूल झोंक कर सेलिंग से बचने की कोशिश की है। उन पर पुनः कभी सेलिंग वाद नहीं चलेगा ऐसा निर्णय नीतीश सरकार कर रही है, इनके अलावा ऱामअवध राय ने सम्मेलन को संबोधित कर कहा कि नाडा और कपरधिका मे 150 से अधिक सेलिंग का परचा गरीबों को मिला है, सुरू मे कब्जा भी था मगर भू माफियाओं ने गरीबों को बेदखल कर दिया है, तोनवा तृभवनी के परसौनी मे 70 से अधिक गरीबों के सेलिंग का परचा मिला है। वह भी भू माफिया के कब्जे हैं, भोलापुर मे 50 से अधिक गरीबों को सेलिंग का परचा मिला हैं, भैरोगंज गाँव मे 60 गरीबो को सेलिंग का परचार मिला है, इस तरह से 1000से अधिक गरीबों को परचा मिला है। सुरू मे कब्जा भी हुआ था। मगर सरकार के मिलीभगत से भू माफिया परचा की जमीन को कब्जा कर रखा है। वही दूसरी तरफ जिस जमीन पर गरीब बसे हुए हैं या खेती कर रहे हैं। उनको वहां से बेदखल करने के लिए सरकार चौतरफा दमन कर रही है। भूमि अधिकार सम्मेलन को भाकपा माले राज कमेटी के सदस्य सुनील यादव ने कहा कि दिल्ली पटना की की सरकार बड़े कारपोरेट घरानों के इसारे पर काम कर रही है। आगे कहा कि कारपोरेट जगत के लिए लैंड बैंक बनाने और अवैध तरीके से जमीन रजिस्ट्री कराने वाले अपराधीयो के साथ मिलकर सरकार नंगा नाच कर रही है। डीएम से लेकर कर सीओ तक भूमि लूट मे सामील है। आगे उनहोंने कहा कि यह भूमि अधिकार सम्मेलन गरीबों को भूमि अधिकार की लड़ाई को तेज करेगा, आगे कहा कि बेतिया राज की जमीन में बसे मधुबनी प्रखंड के सामने बांसी बाजार के दुकानदारों को उजाड़ने की नोटिस दी जा रही है। इसी तरह से बेतिया राज की जमीन में बसे 10 हजार परिवारों को तोड़ने की योजना चल रही है। जंगल की जमीन में बसे और खेती करते आ रहे लोगों को वन अधिकार कानून के तहत मनयाता देने के बदले बीटीआर प्रशासन और सरकार ने उनकी गन्ना की फसलों को जप्त करने की घोषणा की है। ऐसी स्थिति में चम्पारण की जनता भूमि लूट के खिलाफ निणायक लड़ाई लडेगा। माले नेता ने आगे कहा कि जनता के संघर्षों को आगे बढ़ाने के लिए पार्टी ने जिले में चल रही भूमि लूट और मिल राज के खिलाफ संघर्ष को तेज करने के लिए 5 फरवरी 2019 को लोकतंत्र बचाओ आजादी बचाओ जन अधिकार रैली बेतिया के महाराजा स्टेडियम करने की घोषणा किया। जिसमें भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दिपंकर भट्टाचार्य भाग लेंगे। इनके अलावा भाकपा माले के विधायक सत्यदेव राम महबूब आलम सुदामा प्रसाद आदि लोग भी जनअधिकार रैली में भाग लेंगे। इस रैली को एेतिहासिक बनने का अहसान किया। इनके अलावा भूमि अधिकार सम्मेलन में सुरेश राम, राजेश पासवान, अमेरिका राम, बिग राम, बृजेश राम, बागडोर राम, रामवृक्ष राम, छठू राम, द्वारिका राम, विशुनदेव पासी इत्यादि लोगों ने भी सम्मेलन को संबोधित किया। उक्त जानकारी सुनील यादव ने दिया।

Check Also

रिकार्डतोड़ दरों पर हुई नगर पंचायत के पार्किंग की नीलामी, पिछले साल से दुगुना हुआ राशि

    चनपटिया अजय चौबे की रिपोर्ट   चनपटिया। चनपटिया नगर पंचायत के सभागार में नप …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *