Breaking News

22 नवम्बर से 06 दिसम्बर 2018 तक पुरुष नसबन्दी पखवाड़ा है आयोजित, 300 पुरुष नसबन्दी का लक्ष्य रखा गया है जिला में–राजेश कुमार

 

ब्यूरो रिपोर्ट सतेंद्र पाठक पश्चिम चम्पारण   बेतिया। परिवार नियोजन के लिए हमेशा स्वास्थ्य विभाग द्वारा पहल की जाती थी औऱ की जा रही हैं। परिवार नियोजन के तहत ही पश्चिम चम्पारण जिला में 22 नवम्बर 2018 से 06 दिसम्बर 2018 तक पुरुष नसबन्दी पखवाड़ा आयोजित किया जा रहा है। इस पखवाड़ा में लक्ष्य प्राप्त हेतु विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम का भी आयोजन किया जा रहा है। इस संदर्भ में राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार, पटना के दिशा निर्देश पत्रांक 5117 को 26 अक्टूबर को भेजा जा चुका है। इस पत्र के माध्यम से सभी स्वास्थ्य कर्मी को निदेश दिया गया है कि पत्र में अंकित सभी आदेशो का अक्षरसः पालन करते हुए अधिकाधिक उपलब्धि प्राप्त करने का हर संभव प्रयास किया जाए। उक्त आदेश का पालन करते हुए लक्ष्य की प्राप्ति के लिए हर संभव प्रयास व लोगो को जागरूक करने हेतु कई तरह के कार्यक्रम आयोजन किया जा रहा है।

 

 

उक्त बातें डीसीएम राजेश कुमार ने बताया। उन्होंने आगे बताया कि विगत माह अप्रैल 2018 से 31 अक्टूबर 2018 तक कुल 624 पुरुष का नसबन्दी हुआ है। जिसमे बिहार व भारत मे पश्चिम चम्पारण जिला प्रबल रहा हैं। वही पुरुषों के नसबन्दी के समय उन्हें 3 हजार रुपया से लाभावन्ति किया जा चुका है साथ ही उन्हें इस कार्य हेतु सरकार के द्वारा उपहार भी दिया गया है। साथ ही पुरुष नसबन्दी पखवाड़ा के दौरान परिवार नियोजन की अन्य सेवाएं तथा महिला बध्याकरण (पी0पी0एस0 एवं पी0ए0एस0 सहित) संस्थापन(पी0पी0आई0यू0सी0डी0 एवं पी0ए0आई0यू0सी0डी0 सहित) एवं अन्य गर्भनिरोधक के साथ-साथ गर्भनिरोधक सुई (अंतरा) पर भी विशेष बल दिया जा रहा हैं। इस जिला में सूर्य क्लिनिक व मेरी स्टॉप इनका बहुत ही योगदान है। साथ ही इसमें कार्य करने वाले टीम का भी बहुत बड़ा योगदान है। इस बार जिला में 300 पुरुष नसबन्दी का लक्ष्य रखा गया है। इस कार्यक्रम के तहत जिला में सारथी रथ के द्वारा भी जन-जन तक जनाकरी पहुचाया जा रहा हैं।

Check Also

शहीद जवानों के प्रति मझौलिया प्रखंड क्षेत्र के जगह-जगह पर निकला गया कैंडल मार्च

  मझौलिया एन0 आलम की रिपोर्ट मझौलिया। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुई आतंकवादी घटना में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *