कुश्ती खेल भारतीय संस्कृति की पहचान है : मंत्री पुत्र समीउररहमान

 

सिकटा (चितंरजन कुमार गुप्ता)। बलथर थाना के धनकुटवा गांव अवस्थित रामजानकी मंदिर परिसर में कुश्ती-दंगल का शुभारंभ मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद के पुत्र समीउररहमान,पूर्व मुखिया मथुरा यादव व मुखिया अताउर्रहमान ने सयुक्त रूप विधिवत फीता काटकर किया।मंत्री पुत्र समीउररहमान ने कहा है कि कुश्ती खेल भारतीय संस्कृति की पहचान है।इसे बढ़ावा देना हम सभी का कर्तव्य है।कुश्ती दंगल में दिल्ली, बनारस,आजमगढ,नेपाल,चम्पाण,समेत स्थानीय पहलवानों ने हिस्सा लिया।मंत्री पुत्र समीउररहमान ने पहला जोड़ी गोरखपुर के धनंजय पहलवान तथा बकुलहिया के सुनील यादव के बीच हाथ मिलाकर कुश्ती का शुरूआत किया।लेकिन दोनों की जोड़ी बराबरी रही।वहीं दूसरी जोड़ी धनकुटवा के शत्रुधन यादव व गोरखपुर के कुंदन पहलवान के बीच खेला गया।जिसमें शत्रुधन ने कुंदन को पछा दिया।के अलावे धनकुटवा के रामरतन व मठिया के राजेश तथा धनकुटवा के श्याम कुमार व गौचरी के आसमहम्मद तथा बगहा के अशोक व धनकुटवा के मुन्ना पहलवान के दर्जनों जोड़ी ने अपना -अपना भाग्य अजमाया।दंगल के आयोजक सूबे के अल्पसंख्यक कल्याण एवं गन्ना उधोग मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद थे।दंगल के रेफरी राज नारायण यादव थे।मौके पर कृष्णा यादव,मुखिया प्रवेश महतो, पूर्व मुखिया शेषनाथ महतो व विनोद सिंह,सिद्धार्थ कुमार उर्फ झुन्नु यादव,सुजीत यादव,सुबोध श्रीवास्तव,झुमका के महमूद,शिव शंकर यादव व रामध्यान यादव समेत कई शामिल थे।

Check Also

चौथा वर्ग का छात्र घर से गायब , दर्ज करायी गुमशुदगी की प्राथमिकी

    योगापटटी संवाददाता विजय कुमार की रिपोर्ट  योगापटटी – प्रखंड के चौमुखा गांव निवासी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *