जनता अस्त,पार्षद मस्त की एक सच्ची तस्वीर की कहानी वार्ड 26 कि जुबानी ।

बिहार ,पुर्णिया नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नं0 26 मुसहरी टोला बरमसिया में जहाँ नदी में तब्दील हुआ सड़क वहीं बाँस के सहारे लटका मौत को दावत दे रहे हैं बिजली का तार।कुछ लोगों ने बताया कि सहर का बहुत पुराना वार्ड रहने के बावजुद वार्ड का विकाश नहीं के बराबर हुआ है जो कि बहुत हीं चिन्ता का विषय है।इस मुहल्ले में अधिक तर महादलित पिछड़ा,एवं अल्पसंख्यक समुदाय के लोग रहते हैं ।नगर निगम होने के बाद भी यहाँ कि कच्ची सड़कें जो कि थोड़ी सी बारिस होने पर कहीं जोता हुआ खेत तो कहीं नदी में तब्दील होकर निगम व जनप्रतिनिधी को मुह चिढाते हैं। वार्ड का सबसे पिछड़ा इलाका रहने के कारण अवतक बिजली का खंभा तक नहीं लगा है किसी तरह लंबी दुरी तक बाँस के सहारे तार खिचकर बल्ब जलाते हैं। यहाँ के दलितों एवं पिछड़ों अधिकतर भुमीहीन है जिसके कारण बिचारे सरकारी लाभ से वंचित रह जाता है किसी भी भुमीहिनो के पास सौचालय नहीं है जिसके कारन खुले में हीं सौच करने को मजबुर है इस संदर्भ में मुहल्ले वालों ने पूर्व में भी जिला पदाधिकारी महोदय को लिखित आवेदन दिया था जिसमें यथा सिघ्र कार्रवाई करने का आश्वासन दिया गया था तब हम सभी विकास कि आस झोह रहे हैं।

Check Also

जावेद बने प्रखंड सिकटा के राजद के कार्यकारी अध्यक्ष !

🔊 Listen to this  जावेद अख्तर उर्फ पप्पू   सिकटा(चितंरजन कुमार गुप्ता )। प्रखंड राजद के …