धमदाहा उच्च विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य पर गाज गिरना तय.

पुर्णिया धमदाहा से हारून आलम  अनुमण्डल मुख्यालय स्थित उच्च विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक रामानंद यादव के उपर कानूनी कार्रवाई होनी तय है. जिसकी पुष्टि अनुमंडल पदाधिकारी राजेश्वरी पांडेय ने की. ज्ञात हो कि बीते सोमवार को उच्च विद्यालय के छात्रों ने विद्यालय में फैली कुव्यवस्था के अलावा साईकिल और पोशाक की राशि को लेकर मुख्य चौराहा पर सड़क जाम कर टायर जलाकर विद्यालय प्रबंधन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की. जिसके बाद अनुमण्डल पदाधिकारी राजेश्वरी पांडेय, बीडीओ रवि रंजन एवं थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार पासवान प्रदर्शन स्थल पर पहुंचकर आक्रोशित छात्रों को समझा बुझाकर जाम हटवाया. जिसके बाद सभी अधिकारी छात्रों के साथ विद्यालय प्रांगण पहुंच कर एसडीओ श्री पांडेय ने छात्रों की समस्याओं को विस्तार से सुना. छात्रों की शिकायत थी कि विद्यालय के प्रधानाचार्य नियमित रूप से कभी भी विद्यालय नहीं आते हैं, विद्यालय में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था नहीं है, प्रयोगशाला, कंप्यूटर कक्ष एवं जिम हमेशा बंद रहता है. इसके अलावा छात्रों की सबसे मुख्य शिकायत साईकिल और पोशाक राशि को लेकर थी. छात्रों की शिकायतों को सुनने के बाद एसडीओ श्री पांडेय ने जल्द से जल्द उसे दूर करने का आश्वासन दिया था. अभी यह मामला शांत भी नहीं हुआ था कि छात्रों ने गुरुवार के दिन दोबारा से सड़क जाम करने की कोशिश की. हालांकि प्रसाशन की मौजूदगी की वजह से छात्रों ने सड़क जाम तो नहीं किया, लेकिन छात्र वहां से निकलकर धमदाहा उच्च विद्यालय गेट पर ताला लगाने की कोशिश और विद्यालय प्रधान के खिलाफ नारेबाजी भी की वहाँ भी सहायक शिक्षक द्वारा समझाने बुझाने के बाद गुस्साए छात्र सीधा अनुमंडल पदाधिकारी राजेस्वरी पांडेय के कार्यालय पहुंच गए. जहां सभी छात्रों ने विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य के बारे में मौखिक व लिखित शिकायत किया. छात्रों ने एसडीओ से कहा कि आपने आश्वासन दिया था कि हमलोगों की समस्या दूर होगी. लेकिन हमलोगों की समस्या दूर करने के बदले प्रधानाचार्य हमलोगों को बुलाकर डराते और धमकाते हैं. इतना ही नहीं हमारे माता-पिता को फोन कर विद्यालय
बुलाकर अधिकारी को दिए गए आवेदन को वापस लेने के लिए कहा जाता है, अन्यथा विद्यालय से नामंकन हटा देने की धमकी दिया जाता है. छात्रों ने यह भी आरोप लगाया कि हमलोगों को प्रधानाचार्य कहते हैं कि जिन छात्रों की उपस्थिति 75 प्रतिशत से कम है, केवल उन्हीं को साईकिल और पोशाक की राशि नहीं मिली है. जबकि बहुत सारे ऐसे छात्र हैं जो कभी भी विद्यालय नहीं आते हैं, और उसे साईकिल और पोशाक की राशि मिल चुकी है. वहीं हमलोग नियमित विद्यालय आते हैं, तो हमलोगों को साईकिल और पोशाक राशि का लाभ अबतक नहीं मिला है. छात्रों की बातों को सुनने के बाद एसडीओ श्री पांडेय ने छात्रों को बताया कि विद्यालय प्रधान के खिलाफ कार्रवाई के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी को रिपोर्ट भेज दी गई है. उन्होंने छात्रों के सामने ही जिला शिक्षा पदाधिकारी से दूरभाष से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि वे पटना में मीटिंग में हैं, पटना से लौटते ही विद्यालय पहुंच कर छात्रों की समस्याओं को दूर करने एवं प्रभारी प्रधानाचार्य पर कार्रवाई की बात कही.

Check Also

बेतिया में मां दुर्गा की चैतन्य झांकी के आयोजन का उदघाटन सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने किया

    ब्यूरो रिपोर्ट सतेंद्र पाठक प0 चम्पारण   बेतिया। प0 चम्पारण जिला के बेतिया स्थित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *