छेड़खानी और जानलेवा हमला के आरोपी अध्यक्ष और कोषाअध्यक्ष को गिरफ्तारी की मांग को लेकर आइसा ने किया विरोध प्रदर्शन

 ब्यूरो रिपोर्ट प0 बेतिया। आइसा और एनएसयूआई, छात्र राजद, आजाद मंच ने संयुक्त रूप से एम,जे, के, कॉलेज के प्रचार्य के कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया उसके बाद मार्च करते हुए पुलिस अधीक्षक और जिला पदाधिकारी के समक्ष धरना व प्रदर्शन कर छेड़खानी व जानलेवा हमला के आरोपी कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष को अविलंब गिरफ्तार कर जेल में बंद करने और अध्यक्ष पद और कोषाध्यक्ष पद से बर्खास्त करने की मांग जिला समाहर्ता से प्रतिनिधि मण्डल मिल कर मांगपत्र सौपा,मांगपत्र देने के बाद जिला समाहर्ता के गेट पर सभा को संबोधित करते हुए आइसा नेत्री एम, जे, के, कॉलेज के महासचिव निखिता कुमारी ने कहा कि एम जे के कॉलेज जिला प्रशासन और एमजेके कॉलेज प्रशासन की लापरवाही के कारण लंपटो का अड्डा बना हुआ है। जिसके शिकार आए दिन लड़कियां होती हैं, उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए आगे कहा कि जिला प्रशासन की नाक के नीचे शर्मनाक घटना हुई। इसके बावजूद अभी तक आरोपीयो को गिरफ्तारी नहीं किया गया है, जिसके कारण आरोपी खुलेआम कॉलेज कैम्पस में लंपटो के साथ घूम रहा है और मुकदमा उठाने की धमकी दे रहा है। उन्होंने जिला प्रशासन से मांग किया कि कि आरोपियों की गिरफ्तारी तत्काल जिला प्रशासन करें नहीं तो बेतिया का चक्का चक्का जाम कर दिया जाएगा। इनके अलावा आइसा के जिला अध्यक्ष संजीत कुमार ने कहा की एक कॉलेज प्रशासन पहले से जारी भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने के लिए फर्जीवाड़ा कर रोहित मिश्रा को छात्रसंघ अध्यक्ष पद पर विजय बनाया और आज आरोपित होने के बाद भी कॉलेज प्रशासन बचाव कर रहा है। ऐसी हालत में कैसी पढ़ेगी बेटीया,आगे बढ़ेगी बेटीया इसका जवाब कॉलेज प्रशासन, जिला प्रशासन केंद्र और राज्य सरकार के तमाम आला पदाधिकारियों को देना होगा, उन्होंने आगे कहा कि आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी नहीं होती है। तो बेतिया कॉलेज और शहर बड़े आंदोलन को झेलने के लिए तैयार हो रहे ,आज का युवा पीढ़ी यह गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेगा, इनके अलावा एनएसयूआई के हामिद अख्तर ने काह की कॉलेज कैम्पस में जनप्रतिनिधि के साथ जब घटना घट रही है। तब भी जिला प्रशासन और कॉलेज प्रशासन चुप्पी साधे हुए हैं। ऐसी स्थिति में बड़े आंदोलन होंगे। उस आंदोलन के आगोश में आरोपी सहित सभी संरक्षण देने वाले को सबक सिखाया जाएगा, छात्र राजद के मोहम्मद अमजद खान ने काह की बिहार में भाजपा-जदयू की सरकार आने के बाद कोई सुरक्षित नहीं है। इसलिए पीड़िता की न्याय की लड़ाई को लेकर बड़े आंदोलन करने की चेतावनी दिया, आजाद मंच के शैलेश दुबे ने कहा की केंद्र और राज्य सरकारें लंबी चौड़ी बातें करती हैं। लेकिन कॉलेज कैंपस में दिन के उजाले में शर्मनाक घटना घटने के बाद भी कॉलेज प्रशासन जिला प्रशासन कान में तेल डाले बैठी है। अभी भी इनकी गिरफ्तारी नहीं होती है। तो आने वाले दिनों में बड़े जुझारू आंदोलन को झेलने के लिए जिला प्रशासन तैयार रहें इन लोगों के अलावा काउंसिल मेंबर अमित कुमार राम अंसार खान अनुराग मिश्रा, दीपक कुशवाहा सोनू, इंकलाबी नौजवान सभा के सुरेंद्र चौधरी, भगत सिंह युवा विरगेड बैरिया के विनय प्रभाकर, रंजन कुमार पटेल सुजीत मुखर्जी, विनोद कुशवाहा नवीन कुमार धामू , सुनील कुमार राव ने कहा कि गिरफ्तारी और पद से बर्खास्ती तक आंदोलन जारी रहेगा इत्यादि लोगों ने भी सभा को संबोधित किया और आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग किया।

Check Also

Price parrots pay for quirk

Price parrots pay for quirk

🔊 Listen to this In the world of exotic caged parrots, money talks before the …