सिकटा में उपप्रमुख प्रमोद सिंह ने सात निश्चय योजना में भारी गड़बड़ी करने की शिकायत की !

सिकटा(चितंरजन कुमार गुप्ता )।प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में चल रहे सात निश्चय योजना के अन्तर्गत नल- जल व गली -नाली में भारी गड़बड़ी करने का मामला प्रकाश में आया है।इसका खुलासा करते हुए प्रखंड उप प्रमूख प्रमोद सिंह ने डीएम ,डीडीसी, एसडीएम व बीड़ीओ से शिकायत कर किया है । उप प्रमूख ने कहा है कि नल- जल योजना के लिए गाड़े जा रहे बोरिन्ग का पाईप चार सौ फीट गाड़े जाने का प्रावधान है। परन्तु इसे तीन सौ फीट से अधिक कहीं नही गाड़े जा रहे है।जिससे लोगों को शुद्ध पानी मिलने की संभावना कम प्रतीत होने लगा है ।वहीं घटते जल स्तर के दृष्टिकोण से काफी कम समय में बोरिन्गों के सुखने की आशंका जतायी जा रही है। वहीं इस कार्य के तहत पानी आपूर्ति के लिए  मानक से हटकर घटिया किस्म की पाईपों को जमीन के अन्दर गाड़ा जा रहा है। इस पाइप को जमीन के अन्दर तीन फीट खुदायी कर गाड़ने है। लेकिन आनन – फानन में महज दो फीट गहरा ही गाड़ा जा रहा है ।जो कभी भी कट जा सकता है। जिससे पानी की सप्लाई कभी भी बाधित हो सकती है। बैशखवा पंचायत के वार्ड ग्यारह में अजीबो गरीब स्थिति तब देखने को मिली जब बिना किसी वरीय अधिकारी के स्वीकृति के संवेदक द्वारा इलेक्ट्रॉनिक मशीन से पीसीसी सड़क को तोड़ कर नल – जल योजना का पाइप डालने व नाली निर्माण करने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है।इस योजना के क्रियान्वयन में गड़बड़ी लगभग प्रखंड के सभी पंचायतों में एक समान किये जा रहे है।इसके देख रेख करने वाले कनीय अभियंता समेत सहायक अभियंता जिला मुख्यालय में बैठे कार्यों का मोनिटरिन्ग कर रहे है। उप प्रमूख ने जन कल्याणकारी योजना के चल रहे कार्यों का जांच कर निर्माण कार्यों में सुधार करने का गुहार वरीय पदाधिकारियों से किया है। इस बाबत बीड़ीओ मिथिलेश कुमार ने कहा कि जहां जगह नही है वहां पक्का निर्माण तोड़कर पाइप डालना है या नाली बनाना है। निर्माण के बाद उसका मरम्मत किया जायेगा । वहीं नल के लिए गाड़े गये पाइप की गहराई की जांच करायी जायेगी।

Check Also

गुलशन हत्या कांड मे पुलिस की निष्क्रियता पर परिजन व ग्रामीणो मे आक्रोश व्याप्त .

🔊 Listen to this  योगापटटी – छात्र गुलशन कुमार के हत्या कांड मे पुलिस की …