All for Joomla All for Webmasters
May 24, 2018
You can use WP menu builder to build menus

 ब्यूरो रिपोर्ट प0 चम्पारण बेतिया। अनुसुचित जाति एवं अनुूचित जनजाति अत्याचार निवारण जिला स्तरीय सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति की बैठक 18 मई 2018 को जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता मे 11:30 बजे पूर्वाह्न को होगी। इस बैठक मे सिकटा विधायक सह मंत्री समेत जिले के दोनो सांसद, सभी विधायकगण, विधान परिषद सदस्यगण, पुलिस अधीक्षक बेतिया-बगहा एवं समिति सचिव जिला कल्याण पदाधिकारी संबंधित प्रशासनिक पदाधिकारीगण, विषेष लोक अभियोजक व संबंधित गैर सरकारी सदस्यगण उपस्थित रहेंगे। जिला स्तरीय यह बैक सूबे के प्रत्येक जिले मे संबंधित जिले के जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता मे प्रत्येक वर्ष 3-3 माह पर होती है। वही अब सूबे के प्रत्येक अनुमंडल मे भी संबंधित अनुमंडल के अनुमंडल पदाधिकारी की अध्यक्षता मे यह बैठक प्रत्येक माह आयोजित होने जा रही है। सूबे के मुखिया के अध्यक्षता मे इसकी बैठक राज्य स्तर पर वर्ष मे दो बार 6-6 महिने पर होती है। जिसमे सारे जिले के बैठा की समीक्षा काफी गंभीरता से की जाती है। उसी प्रकार देश के सारे मुख्यमत्रीयों के बैठक की समीक्षा प्रतिवर्ष केन्द्र सरकार द्वारा की जाती है। केन्द्र सरकार के दिशा निर्देश पर बैठक की कार्यशैली मे फेरबदल होती रहती है। इस बैठक का उद्देश्य पिडितों को मुआवजा व न्यायोचित न्याय दिलाने से रहता है। उक्त बातेजिला स्तरीय सतर्कता व अनुश्रवध समिति सदस्य सह मानवाधिकार कार्यकर्ता अजय कुमार ने बताया। उन्होने आगे कहा कि प0 चम्पारण जिले मे पिडितो को मुआवजा के नियमित रूप से दी जा रही है। परंतु पिडितों को न्याय और अंतिम मुआवजा देने मे या दिलाने मे अपना जिला काफी पिछडा है। अतः निश्चित रूप से 18 तारीख के बैठक मे जिला पदाकिधकारी पिडितों को न्याय के साथ-साथ अंतिम मुआवजा दिलाने के प्रति सदस्यगणों से गंभीरता से विचार-विमर्श करने जा रहे है।