All for Joomla All for Webmasters
April 24, 2018
You can use WP menu builder to build menus

पश्चिम चंपारण (जय प्रकाश मिश्र) उच्च शिक्षा के क्षेत्र में भीमराव अम्बेदकर बिहार विश्वविद्यालय मुजफ्फरपुर के द्वारा शैक्षणिक कार्यकलाप में हो रहे अनियमित व अराजक व्यवस्था से तंग तबाह होकर आए दिन छात्र-छात्राओ एवं अभिभावको को महाविद्यालय प्रशासन के विरुद्ध अपनी पीड़ा एवं आक्रोश व्यक्त करते नजर आना आम बात हो गयी हैं ।विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री लेने में लगभग 5 से 6 वर्ष की अवधि लग जा रही है ।इसके बावजूद भी परीक्षाफल में तमाम गलतियां रह जाती है ।जिसको सुधार करवाने के नाम पर छात्रों को शारीरिक, मानसिक एवं आर्थिक क्षति के साथ ही समय की भी बरबादियाँ होती है ।साथ ही परीक्षायें ससमय नहीं होने के कारण नामांकित छात्र-छात्राओं को अग्रेतर शिक्षार्जन में तमाम बधाए उत्पन्न होती है ,जिसके चलते कुछ परिजन अपने बच्चों को उच्च शिक्षार्जन हेतु अन्य राज्यों में पलायन करते नजर आ रहे हैं ।इन तमाम भयावह परिस्थितियों पर अपनी चिंता स्पष्ट करते हुए पंडित उमाशंकर तिवारी महिला महाविद्यालय बगहा पश्चिमी चंपारण के प्राचार्य डॉक्टर अरविंद कुमार तिवारी ने महामहिम राज्यपाल सह कुलाधिपति महोदय बिहार से सादर अनुरोध करते हुवे स्वंय तथा अपने महा विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों ( जो यूजीसी के प्रावधानों के अंतर्गत विधिवत नियुक्त हैं ) को कम से कम छः माह के लिए सेवा करने का अवसर की मांग की हैं। श्री तिवारी ने बताया की इतने कम अवधि में भी अपने अनुभव व अनुभवी शिक्षकों के माध्यम से परीक्षा संबंधी तमाम गड़बड़ियों को ससमय दूर कर देने की क्षमता रखता हूँ ।बस एक मौके की तलाश है।