All for Joomla All for Webmasters
February 25, 2018
You can use WP menu builder to build menus

धमदाहा से पवन केसरी  प्रतिनिधि।धमदाहा गरीबों की दी जाने वाली सरकारी अनाज की हो रही कालाबाजारी को ग्रामीणों ने धर दबोचा. ताजा मामला धमदाहा प्रखंड अंतर्गत मीरगंज थाना क्षेत्र का है. बताया जाता है कि सोमवार अहले सुबह मीरगंज थाना क्षेत्र के दमेली पंचायत के नासिक पुल के पास ट्रैक्टर पर लदा अनाज को ग्रामीणों ने संदेह के आधार पर धर दबोचा. जिसके बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना मीरगंज थाना को दी. इस बीच मौका पाकर ड्राइवर फरार हो गया. सुचना पाकर मौके पर मीरगंज थानाध्यक्ष मेनका रानी पहुंचकर अनाज लदे ट्रैक्टर को अपने कब्जे में लेकर थाना परिसर लाई. जहां धमदाहा प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी इमदादुल हक के लिखित बयान पर दमैली पंचायत की डीलर जानकी देवी पर आवश्यक वस्तु उत्पाद निरोध अधिनियम का मामला दर्ज कराया गया. थानाध्यक्ष मेनका रानी ने बताया कि सोमवार के सुबह करीब चार बजे डीलर जानकी देवी के घर से ट्रैक्टर पर लदा अनाज दमैली की तरफ निकला. जिसपर ग्रामीणों को संदेह हुआ तो किसी ने उन्हें दूरभाष पर इसकी सूचना दी. जिसके बाद मीरगंज पुलिस ने नासिक पुल के पास ट्रैक्टर पर लदे अनाज की पड़ताल की तो उन्हें जनवितरण प्रणाली के अनाज होने का संदेह हुआ. जिसकी पुष्टी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी इमदादुल हक ने किया. थानाध्यक्ष श्रीमती रानी ने बताया कि कालाबाजारी के लिए ले जाया जा रहा ट्रैक्टर पर लदा कुल 152 बोरा अनाज जब्त किया गया है. जिसमें 91 बोरी चावल एवं 61 बोरी गेहूं बताया गया. ज्ञात हो कि जब से एफसीआई गोदाम प्रखंड मुख्यालय धमदाहा से स्थांतरण होकर रंगपुरा में स्थापित हुआ है. तबसे ही पूरे प्रखंड क्षेत्र में डिलरों के द्वारा कालाबाजारी आम बात हो गई है. कुछ लोग नाम नहीं छापने के शर्त पर यह तक बता रहे हैं कि अगर प्रसाशन सख्ती दिखाए तो अनाज के कालाबाजारी में संलिप्त बड़े बड़े बिरला चेहरा सामने आ आएंगे.