All for Joomla All for Webmasters
April 26, 2018
You can use WP menu builder to build menus

समस्तीपुर से लक्ष्मी प्रसाद
समस्तीपुर के नगर थाना के गोला रोड स्थित यूको बैंक से 4  जनवरी को हुए 49 लाख रुपये लूट मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। इस मामले में पलिस ने लूट के 21 लाख 94 हजार रुपये के साथ 5 अपराधी को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में आये इन लुटेरों के पास से छह देशी कट्टा ,तेरह कारतूस ,तीन बाइक और एक पिकअप गाड़ी और बारह मोबाईल भी बरामद किया है। 
बताते चले की नगर थाना के गोला रोड स्थित यूको बैंक की शाखा में अपराधियों ने बैंक खुलते ही हथियार के बल पर 49 लाख रुपये की लूट की घटना को अंजाम दिया था। इस घटना के बाद एसपी दीपक रंजन के द्वारा दलसिंह सराय एएसपी संतोष कुमार के नेतृत्व में 10 पुलिस अधिकारी की एसआइटी टीम का गठन किया गया था। इस मामले में एसपी दीपक रंजन ने बताया की इस पुरे मामले का उद्भेदन समस्तीपुर पुलिस ने अपने दम पर किया है। इस मामले में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से अहम् सुराग मिले थे।
जिसके आधार पर पुलिस ने झारखण्ड सहित बिहार के कई जिलों में छापेमारी की है। पुलिस का बताना है की गिरफ्तार अपराधियों का एक बड़ा आपराधिक इतिहास रहा है। ये सभी बैंक लूट के अंतर्राज्यीय गिरोह के सक्रीय सदस्य है। इन अपराधियों ने बिहार के मुजफ्फरपुर ,नालंदा ,पटना ,शेखपुरा ,मोतिहारी ,वैशाली ,गया के अलावे छ्तीसगढ़ के रायपुर में भी बैंक लूट की वारदात को अंजाम दिया है।इस वारदात से आमलोगों के साथ ही पुलिस के भी होश उड़ गए थे, क्योंकि शातिर लुटेरों से उस समय कोई सुराग नहीं छोड़ा था. घटना की गंभीरता को देखते हुए दरभंगा के जोनल आईजी और डीआईजी ने समस्तीपुर में ही कैम्प किया था और तुरंत एक एसआईटी गठित की गयी थी, जिसमें जिले तेज तर्रार माने जाने वाले दस पुलिस अफसर और दो डीएसपी को शामिल किया गया था. शुरू में यह वारदात पूरी तरह ब्लाइंड केस की तरह लग रहा था. इस खुलासे के बाद जहां समस्तीपुर पुलिस ने राहत की सांस ली है. वहीं लोगों में खुशी का माहौल है. लोगों का कहना था कि इन अपराधियों के पकड़े जाने से अन्य अपराधियों के मनोबल में गिरावट आयेगी.