All for Joomla All for Webmasters
January 21, 2018
You can use WP menu builder to build menus

समस्तीपुर से लक्ष्मी प्रसाद/शंकरानंद झा

पिछले वर्ष 29 दिसंबर को पप्पू मुखिया हत्याकांड का आरोपी रविश यादव ने 8 जनवरी को रोसड़ा कोर्ट में किया था सरेंडर
– हत्याकांड में प्रयुक्त हथियार की बरामदगी व अहम सुराग के लिए लिया गया रिमांड पर

हसनपुर। थाना क्षेत्र के चर्चित पप्पू मुखिया हत्याकांड के मुख्य आरोपी रविश यादव से पुछताछ के लिए थानाध्यक्ष महादेव कामत के नेतृत्व में पुलिस बल ने उसे रोसड़ा उपकारा से रिमांड पर लेकर हसनपुर थाना लाई। थाना परिसर में ही हत्यारोपी से थानाध्यक्ष ने हत्याकांड में प्रयुक्त हथियार की बरामदगी व अहम सुराग की जानकारी के लिए एक घंटे तक गहन पुछताछ किया। गौरतलब है कि हत्यारोपी रविश यादव पुलिसिया दबिस में आकर 8 जनवरी को पुलिस की नजर से बचकर रोसड़ा व्यवहार न्यायालय में सरेंडर कर दिया था। जिसके बाद वरिय प्रशासनिक पदाधिकारी के निर्देश पर स्थानीय थाना की पुलिस हत्यारोपी से रिमांड पर लेकर पुछताछ के लिए कागजी प्रक्रिया पूरी करने में लग गई थी। थानाध्यक्ष ने बताया कि हत्यारोपी को रिमांड पर लेकर पुछताछ के बाद हत्याकांड के सही कारणों का पता लगाने में मदद मिलने की संभावना है।

दो अन्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त से हैं दूर:-
पिछले वर्ष 29 दिसंबर को मौजी गांव निवासी पप्पू मुखिया की गोली मारकर हत्या के बाद मृतक के पिता विदेशी मुखिया ने गांव के ही रविश यादव, उसके पिता सागर यादव व उसके भाई पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस के समक्ष फर्द बयान दिया था। फर्द बयान लेने के बाद मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। इस दौरान पुलिस दबिस में आकर मुख्य हत्यारोपी रविश ने रोसड़ा व्यवहार न्यायालय में सरेंडर कर दिया। जबकि शेष अन्य दो आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है।