रोशन व अजय का जलवा

ब्यूरो रिपोर्ट प0 चंपारण

बेतिया। तिरंगा प्रेमी सह समाजसेवी रोशन श्रीवास्तव और मानवाधिकार कार्यकर्ता सह अत्याचार निवारण जिला स्तरीय सतर्कता व अनुश्रवण समिति सदस्य अजय कुमार के संयुक्त अभियान से जिले में निजी विद्यालयों द्वारा शिक्षा के व्यवसायीकरण रोकने का सफल प्रयास अब धरातल पर दिखाई देने का अंतिम पायदान पर दिख रहा है। बिहार मानव अधिकार आयोग पटना ने ज्ञापांक बीएचआरसी/सिओएमपी 1543/2014, 110/ 02 जनवरी 2018 द्वारा प्रेषित नोटिस के बाबत बिहार सरकार शिक्षा विभाग व मानव अधिकार कार्यकर्ता अजय कुमार को आयोग के पास 8 मार्च 2018 को अपना अपना पक्ष रखने का निर्देश जारी किया है। जिले के निजी विद्यालयों द्वारा शिक्षा को व्यवसाय बनाने पर रोक लगाने के लिए समाज सेवी सह तिरंगा प्रेमी रोशन श्रीवास्तव द्वारा बार-बार निजी विद्यालयों के प्रबंधकों से मिलकर इस पर रोक लगाने हेतु काफी प्रयास किया था। परंतु सफलता नहीं मिलने के बाद रोशन श्रीवास्तव द्वारा प्राप्त साक्ष्य के आधार पर मानवाधिकार कार्यकर्ता ने इसकी शिकायत राज्य मानवाधिकार आयोग को किया था। अब आयोग द्वारा संज्ञान के बाद रोशन श्रीवास्तव व अजय कुमार को पूर्ण विश्वास हो गया है कि जिले के साथ-साथ राज्य स्तर पर भी निजी विद्यालय द्वारा शिक्षा के व्यवसायीकरण पर रोक लगना तय है। उक्त बातों की जानकारी मानवाधिकार कार्यकर्ता सह अत्याचार निवारण जिला स्तरीय सतर्कता व अनुश्रवण समिति सदस्य अजय कुमार ने दिया।

Check Also

अधिकारियों ने किया रघुनाथपुर गाँव स्थित डाँढ़ का निरिक्षण:

🔊 Listen to this    प्रीतम सुमन  अमरपुर (निसं)जिला पदाधिकारी के निर्देशानुसार अमरपुर प्रखंड के रघुनाथपुर गाँव …