स्वजन और बींस की खेती एक साथ

 पूर्णिया (दिपेश दीपू) पूर्णिया पूर्व प्रखण्ड क्षेत्र के सिकन्दरपुर पंचायत के किसान शिवनाथ सिंह लगभग एक एकड़ खेत मे स्वजन और बींस की खेती कर नायाब तोहफा क्षेत्र के किसानों को देने जा रहे हैं।मालूम हो कि पूर्णिया पूर्व प्रखण्ड क्षेत्र के किसान सब्जी के खेती के नये नये पद्धति अपनाते रहते हैं जिस कारण इनक्षेत्रों में सब्जी का उत्पाद भी ज्यादा मात्रा में होता है।नजदीक में मंडी होने के कारण किसान सब्जी समय उचित मूल्य पर बेच कर अच्छा मुनाफा भी कमाते हैं।समय समय पर कृषि वैज्ञानिक भी किसानों के खेतों पर पहुँच कर उसे अच्छी खेती की तरकीब बताते हैं।वहीं कुछ किसान एक खेत मे दो तरह का फसल लगाकर लाखों रुपये कम रहे हैं।सिकंदरपुर पंचायत के रहने वाले शिवनाथ सिंह बताते हैं कि वो वैशाली जिले अपने रिश्तेदार के घर गये थे उन्होंने देखा कि किस तरह एक ही खेत मे स्वजन और बींस की खेती कर लोग मुनाफा कमा रहे हैं।कृषि की यह पद्धति उन्हें काफी रोचक लगी तो उन्होंने अपने रिश्तेदार से इस तरह की खेती की जानकारी ली,ओर वहाँ से बीज लाकर अपने खेत मे इस तरह की खेती शुरू कर दिया ।उन्होंने बताया कि स्वजन के एक पौधे में दस से लेकर चालीस किलो तक फलन होता है।जनवरी माह से फलन लगना शुरू हो जाता है।उन्होंने बताया कि शुरू शुरू में उन्हें काफी परेशानी हुई पौधे सूखने लगे दिल मे बहुत घबराहट होने लगी।फिर अच्छे दवाइयों के प्रयोग से उतपन्न सभी बीमारी समाप्त होने लगे।वो बताते हैं कि इस तरह के खेती से किसानों को बहुत लाभ है इसमें कम खर्च करना परता है।हलांकि देखे तो अपने क्षेत्र में बहुत कम हीं किसान स्वजन की खेती करते हैं।इसलिये इसके कीमतों में भी वृद्धि पायी जाती है।ऐसी खेती करने से किसानों को अत्यधिक मुनाफा होता है।साथ हीं स्वजन सेहत के लिए ज्यादा लाभदायक होती है।
हालांकि अन्य सब्जीयों जैसे की गोभी,कद्दू, बैगन, करेला,आदि की खेती में इस क्षेत्र के किसान काफी उन्नति कर चुके हैं।

फोटोकेप्शन:-स्वजन के खेत मे किसान

Check Also

अधिकारियों ने किया रघुनाथपुर गाँव स्थित डाँढ़ का निरिक्षण:

🔊 Listen to this    प्रीतम सुमन  अमरपुर (निसं)जिला पदाधिकारी के निर्देशानुसार अमरपुर प्रखंड के रघुनाथपुर गाँव …