N U J (i) के रांची द्विवार्षिक राष्ट्रीय अधिवेशन में बिहार के 100 प्रतिनिधि लेंगे भाग

Wtv News बिहार डेस्क लक्ष्मी प्रसाद
एन यू जे आई, बिहार की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में लिए गए कई निर्णय
पटना ।एन यू जे आई,की रांची (झारखंड) में आगामी 09-10 मार्च, 2018 को आयोजित द्विवार्षिक राष्ट्रीय अधिवेशन में बिहार से 100 प्रतिनिधि भाग लेंगे। नेशनल यूनियन ऑफ जॉर्नलिस्ट्स, बिहार की आज किदवई पूरी स्थित प्रदेश कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष राकेश प्रवीर की अध्यक्षता में हुई बैठक में उक्त निर्णय लिया गया।
बैठक में तय किया गया कि राष्ट्रीय अधिवेधन में भाग लेने वालों की सूची सभी जिला इकाई आगामी 20 जनवरी , 2018 तक प्रदेश कार्यालय को उपलब्ध करा देंगे।
पहली जनवरी से 31 जनवरी तक सदस्यता अभियान चलाने तथा 31 मार्च, 2018 तक सभी  जिला इकाइयों के पुनर्गठन का निर्णय लिया गया ।
 
प्रदेश उपाध्यक्ष  देवेन्द कुमार (अरवल) को मगध प्रक्षेत्र, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सत्येन्द्र कुमार तिवारी (छपरा) को सारण और तिरहुत, उपाध्यक्ष ददन पांडेय (सासाराम) को शाहाबाद, प्रदेश महासचिव  ऋतेश अनुपम को दरभंगा और कोशी प्रमंडल का प्रभार सौंपा गया। बैठक में संगठन विस्तार पर गम्भीरता से चर्चा की गई तथा पत्रकार हितों को प्राथमिकता देते हुए जिलावार कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया गया।
बैठक के प्रारम्भ में दिवंगत पत्रकार स्व.ब्रजनंदन और स्व.पारस नाथ तिवारी तथा पूरे देश में 2017 के दौरान हत्या के शिकार 8 पत्रकारों की आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखा गया।
 
बैठक में प्रदेश के संगठन संरक्षक आर के बिभाकर, प्रदेश महासचिव ऋतेश अनुपम , उपाध्यक्ष  सत्येंद्र कुमार तिवारी,  कृष्ण कांत ओझा, देवेंद्र कुमार, प्रदेश कोषाध्यक्ष  कौशल किशोर सिंह, सचिव  विजय कुमार पांडेय (सिवान),  प्रभात भारद्वाज “मुन्ना”, (पटना),  संजीव कुमार(पटना), अरवल जिला इकाई के अध्यक्ष अजित कुमार, महासचिव आशुतोष कुमार, पूर्वी चंपारण के अध्यक्ष  रंजीत कुमार तिवारी, वैशाली के अध्यक्ष  कौशल किशोर पाठक, महासचिव  विनय कुमार, गया से  अखिलेश कुमार, छपरा से धर्मेन्द्र कुमार रस्तोगी कार्यसमिति सदस्य सर्व प्रशांत रंजन, दीपक कुमार , राजीव रंजन शर्मा(पटना), मो. सैफुल्लाह (रकसौल , पूर्वी चम्पारण) आदि प्रमुख थे।
 
बैठक के अंत में प्रदेश अध्यक्ष राकेश प्रवीर ने सभी कार्यसमिति सदस्यों को नव वर्ष की हार्दिक अग्रिम शुभकामना दी।

Check Also

In Delhi, Swachh focus on public toilets

In Delhi, Swachh focus on public toilets

🔊 Listen to this Only 458 individual toilets built against target of 1.25 lakh due …