ठंड लगातार चरम पर प्रशासन बे सुध अब तक अलाव की व्यवस्था नही।ठंड से अब हो चुकी एक की मौत

पंकज कुमार ठाकुर बांका/ऊनी व गर्मी वस्त्रों से पटा चांदन बाजार पछिया हवा की गति तेज चलने से सुबह-शाम अलाव के नीचे बैठने को मजबूर है गरीब लोग।सर्दी मौसम का आगमण होते ही ठंड का प्रकोप भी बढ़ गया है।ठंड को लेकर बांका जिला केतमाम बाजारों में ऊनी व गर्म वस्त्रों का बाजार भी सजने लगा है तथा पछिया हवा चलने के कारण सुबह और शाम के समय में ज्यादा ठंड बढ़ जाता है। बेतहाशा ठंड बढ़ जाने से गरीब मजदुरों को काफी कठिनाईयां उठानी पर रही है।मजदुरों को मजदूरी करने में काफी परेशानी हो रही है।लोग ठंड से बचने के लिए अलाव जलाकर गर्म रह रहे हैं. गांव व देहातों में तो बूढ़े पुराने लोगों के द्वारा अलाव लगाया जाता है और उस जगह दस बीस आदमी आकर अलाव ताप्ते देखें जा रहे है।
सर्द मौसम में सबसे ज्यादा मुश्किल स्कूली बच्चों को होता है जो कि पढ़ने के लिये जाते हैं. उसे काफी कठिनाईयो का सामना करना पड़ रहा है।लेकिन अभी तक प्रशासन की तरफ से चांदन प्रखण्ड के किसी भी जगह पर अलाव की व्यवस्था नहीं की गई है।इस कारण तड़के और रात में असहाय लोग ठिठुरने को मजबूर हो रहे हैं।सुबह -शाम ठिठुरन बढ़ने के बावजूद जिला प्रशासन के द्वारा चांदन प्रखण्ड के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंडों ,तिलका मांझी चौक, गांधी चौक, दुर्गा मंदिर व अन्य प्रमुख स्थलों पर गरीब-असहाय लोगों के लिए अलाव की व्यवस्था नहीं हुआ है। परिणाम स्वरूप ठंड को लेकर छोटे -छोटे मासूम बच्चों में कोल्ड डायरिया, सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के रोगी नारायणपुर के कई निजी क्लिनिक पहुँच कर डॉक्टर साहब से उपचार करा रहे है।

इस संबंध में क्या कहते है चिकित्सक:- चांदन पीएचसी प्रभारी ने बताया मोटे व उनी कपड़ें पहन कर घर से निकलें वाईक का कम प्रयोग करें, आतायात के लिए बंद बाहन का इ

Check Also

AAP govt gives ‘in-principle’ nod for purchase of e-buses

AAP govt gives ‘in-principle’ nod for purchase of e-buses

🔊 Listen to this Fleet to hit the streets by June-July next year, says Sisodia …