All for Joomla All for Webmasters
October 17, 2017
You can use WP menu builder to build menus

अफजल आलम रामगढ़वा पुर्वी चम्पारण
रामगढ़वा। तीन दिन जिसके घर मे बाढ़ का पानी था उन्हीं को मिलेगा बाढ़ राहत का पैसा, और जो वार्ड सदस्य या कोई भी पदाधिकारी बाढ़ के मामले में कोई गलत रिपोर्ट देता है उन पर होगी करवाई। उक्त बातें प्रखण्ड स्थित एक निजी कोचिंग संस्थान श्रीवास्तव साइंस इंस्टिट्यूट में  प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए बेतिया सांसद डॉक्टर संजय जायसवाल ने कही। उन्होंने कहा कि जितने भी पंचायत बाढ़ ग्रस्त थे उनको बाढ़ राहत का पैसा मिलेगा।

 और जो भी वार्ड सदस्य , या कोई भी कर्मचारी गलत रिपोर्ट जैसे कि जिसके घर मे बाढ़ का पानी नही घुसा है और रिपोर्ट दिए कि पानी घुसा था तो वह  वार्ड सदस्य और कर्मचारी को जेल जाना तय है। या जिनके घर मे पानी घुसा था और वह रिपोर्ट दिए कि नही घुसा है तब भी उनको जेल जाना होगा।जिनका फसल बर्बाद हुआ है उनको मुवावजा दस तारीख से पहले पहले मिलेगा। और जिन्होंने मछली पालन की थी औऱ सारी मछलियाँ  बाढ़ में बह गई  उनको भी सर्वेक्षण करा कर राहत का पैसा दिया जाएगा। उन्होंने रामगढ़वा वाशी से ये अनुरोध किया कि दस तारीख तक आपलोग कोई हो हल्ला, सड़क जाम, ब्लॉक में धरना या कोई भी प्रदर्शन नहीं करें इस लिए की अगर एक दिन भी हंगामा करते हैं तो बाढ़ राहत का काम प्रभावित होगा, हाँ अगर दस तारीख तक आपलोगों का काम नहीं होता है तब पूछियेगा। उन्हीने कहा कि सी ओ पर भी करवाई होगी। उन्होंने यह भी कहा कि बकरीद के पहले प्रत्येक जगह पर बाढ़ राहत की राशि बंट रही है।सिर्फ रामगढ़वा को छोड़ कर। 

       वहीं बिधायक रामचन्द्र साहनी ने कहा कि रामगढ़वा में अभी तक  बाढ़ राहत का पैसा नहीं बटने का  जिम्मेवार सिर्फ एस डी ओ है। एस डी ओ को कोई अनुभव नहीं है। इन्ही के चलते बाढ़ राहत का काम प्रभावित है। उनको इस  मामले में कोई जानकारी नहीं है। एक दम लापरवाह है। उन्हीने कहा कि एस डी ओ को हटाने की मांग की गई है। जब तक एस डी ओ नही हटेंगे तब कोई भी काम जल्दी करना संभव नही है।  अगर इस डी ओ सही रहता  तो अभी तक राशि बंट गई  होती। आज ये नौबत नही आती, और यहां का बी डी ओ भागा है तो इसका जिमेवार भी एस डी ओ है। एस डी ओ से आजिज आ कर बी डी ओ भागे हैं। मौके पर सांसद संजय जायसवाल, बिधायक रामचंद्र सहनी, मीडिया प्रभारी अश्विनी झा प्रखण्ड अध्यक्ष भूषण सिंह, राजू भगत, विधायक प्रतिनिधि अरविंद पांडेय, प्रमुख पति विशाल गुप्ता , मुखिया चंद्रिका प्रसाद, राजन श्रीवास्तव, नुरुल होदा, लक्ष्मीना देवी, नीलू सिंह सहित जनप्रतिनिधि और अन्य लोग मौजूद थे।